प्रियंका गांधी के आने से कांग्रेस बड़ी पार्टी बन सकती है!

प्रियंका गांधी के आने से कांग्रेस बड़ी पार्टी बन सकती है!

प्रियंका गांधी वाड्रा के सक्रिय राजनीति में आने से जहां एक ओर कांग्रेस में उत्साह का माहौल है वहीं दूसरी ओर कांग्रेस की प्रतिद्वंद्वी पार्टियां बीजेपी सहित कई उसके सहयोगी दलों में चिंता देखने को मिल रही है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, प्रियंका गांधी वाड्रा के सक्रिय राजनीति में आने के बाद, भारतीय मीडिया में अब यह चर्चा आरंभ हो गई है कि क्या प्रियंका गांधी का जादू कांग्रेस के वोटरों को रिझा पाएगा? लेकिन इन प्रश्नों से अलग दुनिया भर की कई प्रतिष्ठित मीडिया संस्थानों ने प्रियंका गांधी को लेकर कुछ ऐसी बातें लिखी और कही है कि सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी और उसके सहयोगी दलों की नींदें हराम हो गईं हैं।

“फॉरेन पॉलिसी” पत्रिका के एक लेख के मुताबिक़, प्रियंका गांधी वाड्रा के कांग्रेस महासचिव बनने से पार्टी को भाजपा की तुलना में धन एवं संसाधन के अंतर को कम करने में मदद मिलेगी। इसी तरह फॉरेन पॉलिसी ने प्रियंका गांधी के सक्रिय राजनीति में क़दम रखने के प्रभाव के बारे में लिखा है कि, भारत में होने वाले आगामी लोकसभा चुनाव पर प्रियंका गांधी के आने काफ़ी प्रभाव पड़ेगा और साथ ही इससे कांग्रेस को आर्थिक तौर फ़ायदा भी होगा।

पार्स टुडे डॉट कॉम के अनुसार, विदेश नीति से जुड़ी अमेरिका की प्रतिष्ठित पत्रिका फॉरेन पॉलिसी ने लिखा है कि प्रियंका के राजनीति में औपचारिक प्रवेश से पार्टी में जोश आया है, जिसने 2014 में नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भाजपा की ऐतिहासिक जीत के साथ सत्ता खो दी थी।

प्रियंका गांधी का सक्रिय राजनीति में प्रवेश ऐसे समय में हुआ है जब कांग्रेस को हरसंभव मदद की आवश्यकता थी। 2014 के आम चुनाव में हार के बाद पार्टी को काफ़ी कम चुनावों में जीत मिली है। ऐसे में प्रियंका की एंट्री से कांग्रेस का मनोबल बढ़ेगा। इसके आर्थिक तंगी से जूझ रही पार्टी को धन जुटाने में भी मदद मिलेगी।

पत्रिका के अनुसार अभी पिछले महीने, कांग्रेस को उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने अपने गठबंधन में शामिल नहीं किया गया था। इसके बाद प्रियंका गांधी ने पूर्वी उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की कमान संभाली है।

बता दें कि पूर्वी उत्तर प्रदेश उनकी मां सोनिया गांधी, भाई राहुल गांधी और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लोकसभा क्षेत्र है। ऐसे में प्रियंका की वजह से कांग्रेस को फ़ायदा मिल सकता है।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस की नवनियुक्त महासचिव प्रियंका गांधी सक्रिय राजनीति में आने के बाद से ही भारतीय मीडिया की सुर्खियों में बनी हुई हैं। ट्विटर पर उनकी एंट्री ने सोशल मीडिया पर खलबली मचा रखी है।

प्रियंका गांधी की ट्विटर पर एंट्री इसलिए भी मायने रखती है क्योंकि हाल ही में बसपा प्रमुख मायावती भी ट्विटर पर आई हैं और अपनी सक्रियता तेज़ कर चुकी हैं।



from The Siasat Daily http://bit.ly/2GFtnEK