यमन के पीड़ित बच्चों की चीखने की आवाज़ ऊपर तक पहुंचती है!

यमन के पीड़ित बच्चों की चीखने की आवाज़ ऊपर तक पहुंचती है!

रोमन कैथोलिक ईसाईयों के प्रमुख पोप फ़्रांसिस ने यूएई और सऊदी अरब की अपनी ऐतिहासिक यात्रा के शुरू होने से ठीक पहले यमन युद्ध की कड़े शब्दों में निंदा की है।

रविवार को संयुक्त अरब इमारात की यात्रा पर जाने से पहले वेटिकन सिटी में हज़ारों लोगों को संबोधित करते हुए पोप फ़्रांसिस ने कहा, यमन के पीड़ित बच्चों और उनके माता पिता की चीख़ें ईश्वर तक पहुंचती हैं।

सऊदी अरब और संयुक्त अरब इमारात मार्च 2015 से यमन पर भीषण हवाई हमले कर रहे हैं, जिसके कारण इस ग़रीब देश का आधारभूत ढांचा पूर्ण रूप से तबाह हो गया है, हज़ारों लोग मारे गए हैं और करोंड़ो लोग भुखमरी का शिकार हैं।

parstoday.com के अनुसार, पोप फ़्रांसिस का कहना था कि लोग लम्बे खिचने वाले युद्ध से थक चुके हैं और बच्चे भुखमरी का शिकार हैं, उन लोगों तक मानव सहायता तक नहीं पहुंच पा रही है।

वरिष्ठ ईसाई धर्मगुरू ने यमन युद्ध के सभी पक्षों से युद्ध विराम के सम्मान की अपील की, ताकि करोड़ों भूखे और बीमार लोगों तक सहायता पहुंच सके।



from The Siasat Daily http://bit.ly/2RCiUvJ