स्विटजरलैंड की मुस्लिम महिलाओं ने कहा- ‘किसी भी कीमत पर हिजाब नहीं उतारुंगी’

स्विटजरलैंड की मुस्लिम महिलाओं ने कहा- ‘किसी भी कीमत पर हिजाब नहीं उतारुंगी’

स्वीट्ज़रलैंड के जनेवा राज्य की नगर पालिका की एक मुसलमान महिला प्रतिनिधि ने बल देकर कहा है कि वह किसी भी स्थिति में अपना हिजाब नहीं उतरेंगी।

साइबेने टीगे मूने ने मंगलवार को स्वीट्ज़रलैंड के एक समाचार पत्र के साथ साक्षात्कार में प्रतिनिधियों और जनेवा राज्य सरकार के कर्मचारियों के हिजाब न करने के बारे में होने वाले जनमत संग्रह की ओर इशारा किया और कहा कि मैं अपना स्कार्फ किसी भी स्थिति में नहीं उतारूंगी और नगर पालिका का पद भी नहीं छोडूंगी क्योंकि मैं उन लोगों की प्रतिनिधि हूं जिन्होंने मुझे चुना है।

पार्स टुडे डॉट कॉम के अनुसार, ग्रीन पार्टी की महिला राजनेता और जनेवा प्रांत के मरीन क्षेत्र की महिला प्रतिनिधि ने कहा कि विरोधियों द्वारा जनमत संग्रह आयोजित कराने से मुसलमान महिलाओं की सामाजिक स्थिति को आघात पहुंच रहा है।

इसी प्रकार उन्होंने सार्वजनिक स्थलों पर, अस्पतालों, बैंकों और हवाई अड्डों पर काम करने वालों के बारे में कराये गये जनमत संग्रह के परिणामों के बारे में चेतावनी दी और कहा कि जो स्थिति उत्पन्न हुई है वह मुसलमान महिलाओं में भय व चिंता उत्पन्न होने कारण बनी है और वे सवाल करती हैं कि क्या हिजाब के कारण अपने काम को छोड़ दें?

ज्ञात रहे कि रविवार को स्वीट्ज़रलैंड के जनेवा राज्य में एक जनमत संग्रह हुआ था जिसमें भाग लेने वाले लगभग 55 प्रतिशत लोगों ने सरकारी कर्मचारियों के लिए हिजाब न करने और धार्मिक प्रतीकों के प्रयोग न करने के पक्ष में मत दिया। इस जनमत संग्रह की आलोचना करने वालों ने बल देकर कहा है कि अधिकांश मत धार्मिक आज़ादी को सीमित करने का हथकंडा न बन जाये।



from The Siasat Daily http://bit.ly/2tit8HT