ईरान पर काबू पाने के चक्कर में अमेरिका ने यूरोपीय देशों से बिगाड़ लिया संबंध!

ईरान पर काबू पाने के चक्कर में अमेरिका ने यूरोपीय देशों से बिगाड़ लिया संबंध!

ईरान की परमाणु ऊर्जा संस्था के प्रमुख ने बताया है कि परमाणु परियोजनाओं में ईरान व यूरोप का सहयोग अच्छी तरह से आगे बढ़ रहा है।

अली अकबर सालेही ने तेहरान में परमाणु उपलब्धियों की प्रदर्शनी के निरीक्षण के अवसर पर पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि यूरोप ने ईरान में पश्चिमी एशिया के सबसे अच्छे व सुरक्षित परमाणु केंद्र के निर्माण के लिए दो करोड़ यूरो देने का वादा किया है। उन्होंने इस बात का उल्लेख करते हुए कि ईरान वर्तमान परिस्थतियों में शोध संयंत्रों का डिज़ाइन तैयार कर सकता है, कहा कि अगर पड़ोसी देश हल्के पानी का शोध संयंत्र के इच्छुक हों तो वे ईरान से सहयोग कर सकते हैं।

ईरान की परमाणु ऊर्जा संस्था के प्रमुख ने कहा कि ईरान का परमाणु उद्योग बंद नहीं किया गया है और तकनीकी आयाम से यूरोप के साथ ईरान का सहयोग काफ़ी अच्छे ढंग से आगे बढ़ रहा है और कुछ परियोजनाएं एेसी हैं जिन पर यूरोप, ईरान में काम कर रहा है। अली अकबर सालेही ने कहा कि राजनैतिक व क़ानूनी मामलों में ईरान व यूरोप के बीच मतभेद हैं।

यूरोप की अपनी अपेक्षाएं हैं और ईरान के अपने विचार हैं लेकिन दोनों पक्ष राजनैतिक ध्रुव पर ही चल रहे हैं। उन्होंने इंस्टैक्स नामक यूरोप के वित्तीय तंत्र के बारे में कहा कि यूरोप वालों ने आर्थिक आयाम से आशाजनक क़दम उठाया है।



from The Siasat Daily http://bit.ly/2MLuxQ8