कांग्रेस की चुनाव आयोग से मांग, पीएम मोदी और अमित शाह के प्रचार पर भी लगे रोक

कांग्रेस की चुनाव आयोग से मांग, पीएम मोदी और अमित शाह के प्रचार पर भी लगे रोक

योगी आदित्यनाथ और मायावती के खिलाफ चुनाव आयोग द्वारा की गई कार्रवाई को लेकर कांग्रेस के प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा है कि ऐसी शिकायत हमने पीएम मोदी और अमित शाह (Amit Shah) के लिए भी की है. वायनाड को लेकर पीएम ने कहा था कि ऐसे जगह से (राहुल गांधी) खड़े हुए जहां बहुसंख्यक, अल्पसंख्यक हैं. अमित शाह ने कहा था कि जुलूस निकलता है तो पता नहीं चलता कि हिन्दुस्तान में निकला है कि पाकिस्तान में. उन्होंने कहा है कि इन मामलों में भी वही कार्रवाई हो जो आज हुई है.

सुप्रीम कोर्ट के कदम को लेकर सिंघवी ने कहा कि राहुल गांधी को सिर्फ एक नोटिस जारी हुआ है जो एक कानूनी प्रक्रिया है. हम उसका पूरी तरह जवाब देंगे. राहुल गांधी के अभिप्राय को बीजेपी (BJP) विकृत कर पेश कर रही है.

कांग्रेस ने चुनाव आयोग द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के चुनाव प्रचार पर तीन दिनों तक रोक लगाने पर खुशी जाहिर की. सिंघवी ने कहा कि ‘नफरत के बोल’ वाली जुबान पर ताला लग गया है. सिंघवी ने संवाददाताओं से कहा, ”नफरत के राग अलापने वालों की जुबान पर चुनाव आयोग ने ताला लगाया. हमारी शिकायत पर यह हुआ है. हमें खुशी है कि हमारी शिकायत पर आयोग ने यह कदम उठाया है.’

उन्होंने कहा, ”बिष्ट जी (योगी) और भाजपा से जुड़े कुछ अन्य लोग अपने संवैधानिक पद का दुरुपयोग करते हैं. अब उस पर आंशिक रूप से रोक लग गई है.” सिंघवी ने दावा किया, ”मूल बात है कि ऐसे व्यक्ति अपने और अपनी पार्टी के फायदे के लिए जो होता है वो कह देते हैं. ये लोग चेतावनी को सम्मान के तमगे की तरह लेते हैं.”

चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बसपा प्रमुख मायावती को सांप्रदायिक बयान देने के कारण अलग-अलग अवधि के लिए चुनाव प्रचार करने से प्रतिबंधित कर दिया है. आयोग ने सोमवार को इस बारे में आदेश जारी कर योगी को मंगलवार (16 अप्रैल) को सुबह छह बजे से अगले 72 घंटे तक और मायावती को इसी समय से अगले 48 घंटे तक किसी भी प्रकार के चुनाव प्रचार अभियान में हिस्सा लेने से रोक दिया है.



from The Siasat Daily http://bit.ly/2DhhbYn